Hindi Diwas 2022 | हिंदी दिवस कब, क्यों मनाया जाता हैं?

Happy Hindi Diwas 2022: भारत एक ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा हिंदी भाषा बोली जाती है। आपस में संवाद का आदान प्रदान करने के लिए हिंदी भाषा हमारा माध्यम होता है, इस भाषा के जरिए हम अपने विचारों को लोगों को बताते हैं और उन्हें ठीक तरह से अपनी भावनाओं को समझा पाते हैं ।

इंसानी जीवन जीते हुए हर एक इंसान के लिए भाषा एक बेहद महत्वपूर्ण चीज है । हर व्यक्ति की पहचान उसके भाषा से होती है और हमें अपनी इस पहचान को बरकरार रखने के लिए हमेशा प्रयास करना चाहिए कि हम अपनी भाषा में ही बात करें । 

आजकल आपने अपने देश भारत में देखा होगा कि लोग अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल बहुत ज्यादा कर रहे हैं । साथ ही अगर कोई हिंदी में बात करता हुआ दिख जाए तो लोग उसे ऐसे नजर से देखते हैं, मानो वह किसी दूसरे ग्रह से आया हो । हमारा देश अंग्रेजों से तो आजाद हो गया, लेकिन हम सभी लोग अंग्रेजी भाषा के गुलाम बन गए हैं ।

आज से कुछ सालों पहले, जब भारत के कुछ नेताओं को शक हुआ  कि अगर इसी तरह लोग अंग्रेजी भाषा को तवज्जो देते गए, तो हमारी हिंदी भाषा हमसे दूर हो जाएगी । इसी के चलते  ही उन लोगों के मन में हिंदी दिवस मनाने का ख्याल आया ।

आज हम आपको इस पोस्ट के जरिए बताने वाले हैं कि हिंदी दिवस कब मनाया जाता है, क्यों मना मनाया जाता है और कैसे मनाया जाता है।

Hindi Diwas 2022: इन्हें भी जरूर पढ़ें

Hindi Diwas Speech in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Quotes in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Shayri in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Poem in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Eassy in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Status in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Themeयहां से पढ़ें
Happy Engineers Day Shayari Wishes Quotes Hindiयहां से पढ़ें
फ्री में ऑनलाइन पैसा कमाना सीखेयहां से सीखे

Hindi Diwas kab manaya jata hai?

Happy Hindi Diwas
Happy Hindi Diwas

हमारा प्यारा भारत एक ऐसा देश है जहां सबसे अधिक हिंदी बोली जाती है। इसीलिए हिंदी भाषा को विशेष महत्व देने के लिए हिंदी दिवस मनाया जाता है। भारत में हिंदी दिवस मनाने की शुरुआत देश की आजादी के बाद शुरू हुई।

हर साल भारत में 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। हिंदी दिवस का मुख उद्देश्य लोगों को हिंदी भाषा के प्रति जागरूक करना और हिंदी भाषा को विश्व स्तर पर प्रचार करना है।

14 सितंबर 1946 के दिन संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में लिखी हिंदी को भारत की अधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया था। 

फिर भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने 14 सितंबर को ही हिंदी दिवस के तौर पर मनाने का फैसला लिया। हालांकि आधिकारिक तौर पर पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था।

हिंदी दिवस के अवसर पर अलग-अलग संस्थाओं में कई प्रकार के प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इसमें हिंदी कविता, हिंदी लेख या से हिंदी से जुड़े कई सारे  प्रतियोगिताएं कराई जाती हैं। इस साल आपको 14 सितंबर 2022 को इस तरह के बेहतरीन सम्मेलन देखने को मिलेंगे।

Hindi Diwas kyu manaya jata hai

भारत में बढ़ती अंग्रेजी के चलन और हिंदी के अनदेखी को रोकने के उद्देश्य से हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। जैसा कि हम सब जानते हैं हमारे देश भारत में सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा हिंदी है। लेकिन वर्तमान समय में भारत में हिंदी भाषा का जो महत्व है कम होता जा रहा है।

लोग हिंदी भाषा को उतना महत्व नहीं दे रहे। जितना की इस भाषा को दिया जाना चाहिए। हिंदी भाषा भारत की राष्ट्रभाषा नहीं है, मगर हिंदी भाषा को भारत में लगभग हर जगह समझा और बोला जाता है। जिस वजह से महात्मा गांधी ने 1918 में इसे जनमानस की भाषा कहते हुए राष्ट्रभाषा बनाने के लिए जोर दिया था।

उस वक्त भारतीय संविधान में हिंदी भाषा को केंद्र सरकार की भाषा कही गई थी और हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा दिया गया था। इसके बावजूद भी  लोगों के बीच हिंदी भाषा के उपयोग और इसके इस्तेमाल को लेकर जागरूकता कम होती जा रही थी।

आप लोगों ने देखा होगा कि हिंदी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कई सरकारी कार्यालयों में अंग्रेजी भाषा के जगह पर हिंदी भाषा का उपयोग किया जाता है।  अगर बात करें न्यू जनरेशन की तो इन्हें हिंदी भाषा समझने में थोड़ी मुश्किल भी होती है।

क्योंकि आजकल के माता-पिता अपने बच्चों को इंग्लिश मीडियम स्कूल में ही पढ़ाना चाहते हैं। अगर आपका बच्चा अच्छा इंग्लिश बोलता है, वह एक बहुत ही होशियार और चलाक बच्चा  माना जाएगा। जिसके कारण समाज में आपका और आपके बच्चे का नाम होगा। लोग आप की वाहवाही करेंगे।  लेकिन वही जो बच्चा हिंदी लिखता और बोलता है उसको थोड़ी कम महत्त्व दीया जाता है ।

Hindi Diwas kaise manaya jata hai?

हिंदी दिवस के दिन लोगों को हिंदी के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग तरीकों से समारोह और सेमिनार का आयोजन किया जाता है।इस दिन स्कूलों में हिंदी कविता प्रतियोगिता हिंदी कवि सम्मेलन और हिंदी भाषा के साहित्यकार जैसे अनेकों समारोह आयोजित किया जाता है। 

इस दिन सरकारी जगहों पर हिंदी  पुस्तक और हिंदी कविता लिखने वाले बेहतरीन लेखकों को सरकार की तरफ से पुरस्कार दिया जाता है। हिंदी साहित्य से जुड़े विभिन्न लोगों को विभिन्न प्रकार के पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है।

हिंदी भाषा से जुड़े अलग-अलग प्रकार के समारोह आयोजित किए जाते हैं ताकि लोग हिंदी भाषा के प्रति आकर्षित हो सकें। बीते कुछ सालों की तुलना में आज हिंदी भाषा तेजी से लोकप्रिय हो रही है और लोग हिंदी भाषा में बेहतरीन कला कृति प्रस्तुत कर रहे हैं।

इन्हें भी जरूर पढ़ें?

Hindi Diwas Speech in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Quotes in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Shayri in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Poem in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Eassy in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Status in Hindiयहां से पढ़ें
Hindi Diwas Themeयहां से पढ़ें
Happy Engineers Day Shayari Wishes Quotes Hindiयहां से पढ़ें
फ्री में ऑनलाइन पैसा कमाना सीखेयहां से सीखे

हमें आशा है कि आज का हमारा यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा और साथ ही आपको यह भी समझ आ गया होगा कि हिंदी दिवस कब मनाया जाता है, क्यों मना मनाया जाता है और कैसे मनाया जाता है। अगर यह पोस्ट आपको अच्छा लगा तो इसे अपने फ्रेंड्स और फैमिली के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि उनको भी हिंदी दिवस के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।