Nag Panchami 2022: नाग पंचमी कब है? जानें तारीखमहत्व और शुभ मुहूर्त

Nag Panchami 2022 Date सावन का महीना शुरू हो गया है। ऐसे में अब त्योहारों का मेला भी शुरू होने जा रहा है. जहां एक के बाद एक त्योहार आते जाते हैं।वहीं नाग पंचमी सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी(Nag Panchami 2022)को मनाई जाती है.इस प्रकार नाग पंचमी का पर्व हरियाली तीज के दो दिन बाद मनाया जाता है।

ऐसे में आपको बता दें कि इस दिन नाग पंचमी के दिन महिलाएं नाग देवता की पूजा करती हैं.और सांपों को दूध पिलाया जाता है।श्रावण मास की पंचमी तिथि को नाग देवताओं की पूजा के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस साल यह पर्व 2 अगस्त 2022 को मनाया जाएगा।

नाग पंचमी का महत्व (Nag Panchami Importance)

सावन के महीने में नागों की पूजा सबसे शुभ मानी जाती है। आपको बता दें कि सनातन धर्म में सांपों की पूजा की जाती है।ऐसे में अब नाग पंचमी के दिन सांपों की पूजा की जाती है और उन्हें गाय के दूध से नहलाया जाता है यह भी मान्यता है कि जो लोग नाग पंचमी के दिन भगवान शिव की पूजा करते हैं और नाग देवता के साथ रुद्राभिषेक करते हैं, उनके जीवन से कालसर्प दोष समाप्त हो जाता है। साथ ही राहु और केतु की अशुभता भी दूर होती है। ऐसे में नाग देवता की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

यह भी पढ़ें=bloggingrules.in

नागपंचमी 2022 पूजा मुहूर्त 

इस वर्ष नागपंचमी के दिन पूजा करने का शुभ मुहूर्त 2 अगस्त मंगलवार को प्रातः 06:05 बजे से 08:41 बजे तक रहेगा. वहीं पंचमी तिथि 2 अगस्त की सुबह 05:13 से शुरू होकर 3 अगस्त की सुबह 05:41 तक रहेगी.

ऐसे करें नागपंचमी पर नाग देवता की पूजा

नागपंचमी का व्रत भी रखा जाता है और जो लोग कालसर्प दोष निवारण की पूजा कर रहे हैं उन्हें चतुर्थी से ही व्रत प्रारंभ कर देना चाहिए.इसके लिए चतुर्थी के दिन एक बार भोजन करें और शेष दिन उपवास रखें। इसी तरह पंचमी के दिन पूरे दिन व्रत रखें और शाम को भोजन करें. नाग देवता की पूजा के लिए चौकी पर नाग देवता की तस्वीर या मूर्ति लगाएं।फिर नाग देवता का आह्वान करें। उन्हें हल्दी, रोली और चावल से तिलक लगाएं। फूल चढ़ाएं। धूप बनाना। कच्चा दूध और चीनी अर्पित करें। नाग देवता की कथा अवश्य पढ़ें। अंत में नाग देवता की आरती करें।

क्यों मनाया जाता है नाग पंचमी का त्योहार?

नागपंचमी के पावन दिन पर नार्थ इंडिया में नाग के 12 रूपों की पूजा होती है।लोग सांप को शिव का हार मानते हैं, इसलिए उनकी पूजा करते हैं। वैसे इसके पीछे का कारण यह भी है कि सावन के महीने में जब बहुत अधिक पानी की बारिश होती है, तो सांप, जो काफी जहरीले होते हैं, अक्सर लोगों और खेतों को नुकसान पहुंचाते हैं, इसलिए नागपंचमी के दिन लोग देवता की पूजा करते हैं। नाग देवता स्वयं की पूजा करके। रक्षा के लिए प्रार्थना करें।

Nag Panchami Wishes Quotes 2022

भगवान शिव आप सभी को ढेर
सारी खुशियां और समृद्धि प्रदान करें!
आप सभी को नाग पंचमी की बहुत बहुत बधाई !
🌷 नाग पंचमी की शुभकामनाएं 🌷

नाग देवता आपको समृद्धि और खुशियाँ प्रदान करें!
🐍 शुभ नाग पंचमी 🐍

मेरी कामना है कि शिव शंकर की महिमा आपकी आत्मा का उत्थान करे और आपके सभी कष्टों को दूर करे।
🌸 नाग पंचमी की शुभेच्छा 🌸

नागपंचमी के पावन अवसर पर भगवान शिव के गले के आभूषण के रूप में नाग देवता को नमन।
💐 Happy Nag Panchami 2022 💐

नाग पंचमी के इस पावन पर्व पर, मैं कामना करता हूं कि आपका जीवन एक आनंदमय स्वर्ग बने और भगवान शिव आपका मार्गदर्शन करें और सभी प्रकार के खतरों से आपकी रक्षा करें!
🙏 नाग पंचमी की हार्दिक शुभेच्छा 🙏💐 Happy Nag Panchami 2022 💐

नाग पंचमी के शुभ दिन को खुशी के साथ मनाएं और लोगों को भगवान शिव के मूल्यों को समझने में मदद करें!
🌸 नाग पंचमी की शुभेच्छा 🌸

नाग पंचमी के पावन पर्व की आप सभी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाए।
🔱 हैप्पी नाग पंचमी 🔱