Raksha Bandhan 2022 Date: इस बार 11 या 12 अगस्त को मनाया जाएगा रक्षाबंधन?

Raksha Bandhan 2022 Date रक्षा बंधन का पर्व भाई-बहन के अटूट प्रेम का पर्व है। इस दिन भाई अपनी बहनों से मिलते हैं और राखी बांधते हैं।

Raksha Bandhan 2022 Date Shubh Muhurat:भाई बहन के त्योहारों में रक्षा बंधन (Raksha Bandhan 2022) का त्योहार विशेष स्थान रखता है. रक्षा बंधन का त्योहार हर साल श्रावण मास (Sawan Month 2022) के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है.इस दिन बहनें भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं और भाई की लंबी उम्र और सुखी जीवन की कामना करती हैं।वहीं भाई अपनी बहनों को कुछ तोहफे देता है।

यह भी पढ़ें=bloggingrules.in

इसके साथ ही वह उनकी रक्षा करने का वादा करता है। हिंदू शास्त्रों में शुभ मुहूर्त में भाइयों की कलाई पर राखी बांधने की बात कही गई है।धार्मिक ग्रंथों के अनुसार भद्रकाल में राखी बांधना अशुभ होता है। भाई-बहन के प्यार और स्नेह का यह पर्व इस बार 11 अगस्त को मनाया जाएगा।इस पर्व से पहले कुछ ऐसे काम हैं जो समय रहते कर लेने चाहिए।

send rachis now राखी भेजो अभी

अगर आपका भाई कहीं दूर पढ़ने गया है या काम पर गया है। या अगर किसी अन्य कारण से आप रक्षा बंधन के दिन उन्हें राखी नहीं बांध सकते हैं, तो ऐसी परिस्थितियों में उन्हें अभी से कूरियर या डाक से राखी भेजें। ताकि रक्षा बंधन से पहले भाई को राखी मिले और वह समय रहते राखी बांध सके।

इस दिन मनाया जाएगा त्योहार

पौराणिक मान्यता के अनुसार सावन के महीने में शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाता है. इस दिन सावन का भी समापन होता है। इस बार पूर्णिमा 11 और 12 दोनों दिन है।

इस वजह से रक्षाबंधन कब मनाया जाएगा इसको लेकर लोगों में काफी कन्फ्यूजन है। इस समस्या को दूर करने का तरीका सटीक तारीख जानना है। अगस्त में पूर्णिमा तिथि 11 तारीख को है।

इस दिन पूर्णिमा तिथि सुबह 10.38 बजे से शुरू हो रही है।यह तिथि अगले दिन यानी 12 अगस्त, शुक्रवार को सुबह 7.05 बजे समाप्त होगी. जानकारों के मुताबिक 11 अगस्त को पूर्णिमा है इसलिए रक्षा बंधन का पर्व 11 अगस्त को मनाया जाएगा.

समस्या भद्रा के कारण होती है

जुलाई का महीना आते ही भारतीय बाजार खूबसूरत राखियों से सजने लगते हैं तो मिठाई की दुकानों में घेवर, बालूशाही और कलाकंद खास नजर आते हैं।रक्षाबंधन के दिन बहनें भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं।

भाई उसकी रक्षा करने का वचन देता है। इस दिन भाई भी विवाहित बहनों के घर मिठाई और मिठाई लेकर जाते हैं।राखी का त्योहार वाकई में बहुत बड़ा त्योहार है, लेकिन अक्सर देखा जाता है कि इस त्योहार पर अक्सर भाद्र की छाया आती है।इससे यह समस्या पैदा हो जाती है कि राखी का त्योहार किस दिन और किस समय मनाया जाए।

ये रहेंगे शुभ मुहूर्त

शुभ मुहू- 11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 से रात 9 बजकर 14
अभिजीत मुहूर्त- सुबह 12 बजकर 6 से 12 बजकर 57 तक
अमृत काल- शाम 6 बजकर 55 से शाम 8 बजकर 20 तक
ब्रह्म मुहू – सुबह 04 बजकरर्त 29 . से 5 बजकर 17 मिनट तक

पूर्णिमा तिथि का महत्व

हिंदू शास्त्रों के अनुसार पूर्णिमा तिथि को विशेष रूप से पूजनीय माना गया है। इस दौरान चंद्रमा की शक्ति बहुत प्रबल होती है। पंचांग में इस तिथि को पूर्णा नाम दिया गया है।यह समय अत्यंत शुभ माना जाता है।

यह तिथि मांगलिक कार्यों के लिए मान्य है।इस समय किए गए कार्यों की शुभता जीवन को लंबे समय तक प्रभावित करती है और सुख और शुभ परिणाम प्रदान करने वाली मानी जाती है।

Happy Raksha Bandhan Wishes

प्यारी बहना, खुश रहे तू सदा,
ये दुआ है मेरी…
Happy Raksha Bandhan..!!
🥀👧👦❤️🙏

या रब मेरी दुआओं में इतना असर रहे,
फूलों भरा सदा, मेरी बहन का घर रहे…
Happy Raksha Bandhan..!!
🥀👧👦❤️🙏

हे भगवान, मेरी दुआओ में असर इतना रहे,
मेरी बहन का दामन हमेशा भरा रहे…
Happy Raksha Bandhan..!!
🥀👧👦❤️🙏

मेरी बहन है मेरी शान,
बहना तुझ पर कर दूँ सब कुछ कुर्बान…
Happy Raksha Bandhan..!!
🥀👧👦❤️🙏

हाथ की लकीरे तो मेरी भी ख़ास हैं,
क्योंकि तेरे जैसा भाई मेरे पास हैं…
Happy Raksha Bandhan..!!
🥀👦❤️🙏